नौ माह बाद गुलजार हुईं - प्रणाम पर्यटन - पहले पढ़ें, फिर घूमें

a

Post Top Ad

गुरुवार, 10 दिसंबर 2020

नौ माह बाद गुलजार हुईं

एलोरा,अजंता की गुफाएँ,पर्यटकों का लगा तांता

गुरुवार को एलोरा में प्रवेश के लिए आन लाइने बुकिंग करते पर्यटक 

विजय चौधरी ,प्रणाम पर्यटन प्रतिनिधि

औरंगाबाद (महाराष्ट्र)। लगभग नौ महीने बाद विश्व प्रसिद्ध अजंता -एलोरा सहित प्रदेश के पर्यटक स्थल कोविड -19के तहत खोले जाने के बाद गुरुवार को पर्यटकों की भीड़ उमड़ पड़ी । शहर से तीस किलोमीटर दूर एलोरा में काफी संख्या में पर्यटक गुफाओं को देखने के लिए पहुंचे। पर्यटक अपने अपने समूहों में आए हुए हैं, जिनमे  कुछ विदेशी पर्यटक भी दिखाई दिये। भारतीय पर्यटकों में नादेड़ के सदानंद पाठक ,गुजरात के गोपाल पटेल तो राजस्थान के चेतन शर्मा ने बात करते हुए बताया की एक लंबे समय से घरों में कैद रहने के बाद अब इन स्थलों पर खुली हवा में सांस लेने का अवसर मिला है। यदपि लाक डाउन से पहले की तरह पर्यटकों की उतनी भीड़ नहीं थी फिर भी पहला दिन होने की वजह से सामान्य  से अधिक संखाया कही जा सकती है। 

एलोरा के बाद दौलतबाद किला को देखने वालों की भी संख्या अधिक रही। पता हो एक दिन पहले ही जिला प्रशासन ने कोविड-19 के नियमों के तहत ही इन धरोहरों को आम पर्यटकों के लिए खोलने की अनुमति दी थी। जिसके मुताबिक पर्यटक इस स्थलों पर देखने से पहले अपने  को सेनेटाइज़  कर आन लाइन बुकिंग कर अंदर जा सकेंगे। जिसके लिए पर्यटन स्थलों पर बुकिंग के लिए बार कोड लगाए गए हैं।

भारतीय पुरातत्व के राजेश वाकलेकर ने बताया की सभी पर्यटकों को इन स्थलों को देखने से पहले सभी नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा, तभी उन्हें अंदर जाने की अनुमति मिलेगी। प्रवेश के लिए टिकट की भी बुकिंग पर्यटक अपने मोबाइल से कर सकते हैं। जिसकी सारी सुविधाएं प्रवेश द्वार पर ही उपलब्ध है।

उल्लेखनीय है कि मार्च में कोविड के चलते दुनिया भर के पर्यटन स्थलों को बंद कर दिया गया था। जो पूरे नौ माह बाद महाराष्ट्र के पर्यटक स्थलों को खोला गया ।  उधर अजंता की गुफाएँ देखने के लिए भी काफी संख्या में पर्यटक आज पहुंचे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

DdbfCubDgGi7BKGsMdi2aPk2rf_hNT4Y81ALlqPAsd6iYXCKOZAfj_qFGLoe2k1P.jpg