राजस्थान में पर्यटकों के लिए 'बर्फ' व 'समुद्र' छोड़ सब कुछ है : सांस्कृतिक मंत्री कल्ला - प्रणाम पर्यटन - पहले पढ़ें, फिर घूमें

प्रणाम पर्यटन - पहले पढ़ें, फिर घूमें

जहाँ नज़र ,वहीँ खबर

a

Post Top Ad

रविवार, 24 जुलाई 2022

राजस्थान में पर्यटकों के लिए 'बर्फ' व 'समुद्र' छोड़ सब कुछ है : सांस्कृतिक मंत्री कल्ला

राज्य में फिल्म की शूटिंग पर दो करोड़ की सब्सिडी 

ट्रैवल मार्ट का शुभारम्भ करते हुए राजस्थान के सांस्कृतिक मंत्री बी.डी कल्ला ,साथ मैं दिखें दे रहीं हैं प्रमुख सचिव पर्यटन (राजस्थान) सुश्री गायत्री राठौर व अन्य.

-----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

प्रणाम पर्यटन प्रतिनिधि 

 जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर में आयोजित दो दिवसीय राजस्थान डोमेस्टिक ट्रैवल मार्ट में लगभग दो सौ से अधिक पर्यटक्षेत्र से जुड़े लोगों ने भाग लिया .यह आयोजन करीबन दो साल बाद आयोजित किया गया.कोविद के चलते आयोजित नहीं की जा सकी थी. भाग लेने वालों में होटल व्यवसाय एवं पर्यटन क्षेत्र से जुड़े अन्य लोगों ने शिरकत की ,जिनमें पर्यटक भी शामिल थे. पता हो की राजस्थान पर्यटन विकास निगम का यह दूसरा आयोजन था. इससे पूर्व सन 2018 में आयोजित किया गया था. 

इसमें कोई दो राय  नहीं कि   राजस्थान, यकीनन पर्यटकों के लिए सबसे पसंदीदा राज्यों में से एक है, विशेष रूप से अन्य देशों के लोगों के लिए, यह अलग की बात है कि कोविड के कारण विदेशी पर्यटकों की संख्या में गिरावट आई है और राज्य में पर्यटन क्षेत्र, जो घरेलू पर्यटकों व स्थानीय पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों के लिए अच्छा नहीं राहा .अब सरकार  इस ओर ठोस कदम उठा रही है. 

22 जुलाई को इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम के औपचारिक उद्घाटन में, राजस्थान  के संस्कृति मंत्री बी डी कल्ला ने कहा, "राजस्थान में बर्फ और समुद्र को छोड़कर पर्यटकों  को देने के लिए सब कुछ है.  मुझे विश्वास है कि राज्य में घरेलू पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा."

प्रमुख सचिव पर्यटन गायत्री राठौर ने कहा कि न केवल अधिक से अधिक पर्यटकों की संख्या सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं बल्कि यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि पर्यटन उद्योग के लिए विभिन्न प्रोत्साहन राज्य में इस क्षेत्र में निवेश कैसे बढ़ा सकते हैं। मार्ट के उद्घाटन सत्र में फिल्म पर्यटन प्रोत्साहन नीति का भी शुभारंभ किया गया। नीति के तहत, सरकार राज्य में शूट की जाने वाली फिल्मों के लिए दो करोड़ रुपये तक की सब्सिडी और प्रोत्साहन देगी।

समारोह में बोलते हुए, फेडरेशन ऑफ हॉस्पिटैलिटी एंड टूरिज्म राजस्थान के अध्यक्ष अपूर्व कुमार ने उल्लेख किया कि राज्य में पर्यटन के लिए उद्योग क्षेत्र को अनुदान, देश में पहली बार, व्यापार को बढ़ावा देने और रोजगार के विशाल अवसर पैदा करने में काफी मदद मिली है।



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

DdbfCubDgGi7BKGsMdi2aPk2rf_hNT4Y81ALlqPAsd6iYXCKOZAfj_qFGLoe2k1P.jpg