24 जनवरी, 2023 तक चलेगा प्रदेश के 75 ऐतिहासिक स्थलों पर 'स्वच्छ विरासत अभियान' : नेहा शर्मा - प्रणाम पर्यटन - पहले पढ़ें, फिर घूमें

प्रणाम पर्यटन - पहले पढ़ें, फिर घूमें

पत्रिका ही नहीं,दस्तावेज़ भी

a

Post Top Ad

शनिवार, 14 जनवरी 2023

24 जनवरी, 2023 तक चलेगा प्रदेश के 75 ऐतिहासिक स्थलों पर 'स्वच्छ विरासत अभियान' : नेहा शर्मा

लखनऊ: (प्रणाम पर्यटन ब्यूरो) प्रदेश में स्वच्छ भारत मिशन के तहत सभी नगरीय निकायों में ‘स्वच्छ विरासत’ अभियान की राज्य स्तरीय शुरुआत शनिवार को  लखनऊ के चौक स्थित घंटाघर पर पतंग महोत्सव का आयोजन कर के की गई। नगर विकास विभाग द्वारा स्वच्छ विरासत अभियान 14 से 24 जनवरी, 2023 तक प्रदेश के चिन्हित 75 विरासत व ऐतिहासिक स्थलों पर चलाए जाएगा और इन स्थलों की साफ-सफाई व सुंदरीकरण कर स्वच्छ धरोहर के रूप में स्थापित किया जाएगा, जिससे देश विदेश से आने वाले पर्यटकों को यहां का सौंदर्य बोध हो सके।


नगरीय निकाय निदेशक श्रीमती नेहा शर्मा ने  'विरासत स्वच्छता अभियान'की शुरुआत करते हुए कहा कि मकर संक्रांति के दिन पतंग महोत्सव से शुरू किया गया यह 10 दिवसीय अभियान 14 से 24 जनवरी तक ऐतिहासिक स्थलों की साफ सफाई के लिए चलाए जाएगा। इस दौरान 21 जनवरी को ‘रन फॉर जी-20’ का आयोजन किया जाएगा और 24 जनवरी को यूपी स्थापना दिवस पर गो पूजन के साथ इस अभियान का समापन किया जाएगा। इस दौरान घाटों व तालाबों की साफ-सफाई और सुंदरीकरण किया जाएगा। विरासत स्थल वाले मार्गों को व्यवस्थित करना, यहां के रेड और येलो स्पॉट की सफाई, नीला और हरा डस्टबिन की उपलब्धता कराना, यहां पर शौचालयों व मूत्रालयों की सुविधा और साफ-सफाई के साथ इन स्थानों पर सिंगल यूज प्लास्टिक के पूर्ण प्रतिबंध को भी सुनिश्चित कराया जाएगा।


उन्होंने कहा कि आगामी माह में प्रदेश के विभिन्न शहरों में वैश्विक गतिविधियां होने जा रहे हैं, जिसके लिए हमें अभी से तैयार रहना होगा। प्रदेश की सांस्कृतिक और ऐतिहासिक धरोहरों के रखरखाव के लिए हम सभी को जिम्मेदारी के साथ आगे आना होगा। हमें अवसर मिला है अपनी वैश्विक पहचान बनाने का, जिसे जनभागीदारी से ही पूर्ण किया जा सकता है। उन्होंने आम लोगों से स्वच्छ विरासत अभियान से जुड़ने की अपील की।

लखनऊ की महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया ने भी इस दौरान पतंग महोत्सव को संबोधित करते हुए कहा कि पतंगबाजी लखनऊ की विरासत रही है। यह स्थल घंटाघर भी इस खेल का साक्षी रहा है। उन्होंने सभी से अपील की कि शहरों की साफ सफाई का ख्याल रखें। सफाई कर्मियों का सम्मान करें, जो सुबह 5 बजे से सफाई कार्य में लग जाते हैं। उनके इस महत्वपूर्ण सेवा को हम सभी को सम्मान देना है। उन्होंने कहा कि पतंग महोत्सव के माध्यम से स्वच्छता को मनोरंजन के साथ जोड़ने की कोशिश की गई।

पतंग महोत्सव में नुक्कड़ नाटक के जरिये भी लोगों को स्वच्छ अभियान की खुबियों को आम जनमानस तक पहुंचाया गया। नगर निगम ने महोत्सव में स्वच्छता के दो रंग नीले और हरे रंग की पतंगों को आसमान में उड़ाकर स्वच्छता का संदेश दिया। लखनऊ के मशहूर पतंगबाजो को पतंग, मोमेंटो और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इनमें मून लाइट काइट क्लब के ए0एन0 कौल, एसएस काइट क्लब के सिराजुल हक, चौक काइट क्लब के पार्षद अनुराग मिश्रा, चौक क्लब के अकील शम्सी, गाजी काइट क्लब के अब्दुल्ला, सुपर काइट क्लब के सतीश छाबड़ा, स्टार काइट क्लब के बण्टी भाई, मून काइट क्लब के सौरभ रस्तोगी और किंग काइट क्लब के रजा भाई को सम्मानित किया गया और उन्हें भारत के मानचित्र की पतंग, माननीय प्रधानमंत्री जी माननीय मुख्यमंत्री जी की फोटो लगी पतंग, महापौर संयुक्ता भाटिया जी की फोटो लगी पतंग भेंट की गईं। कार्यक्रम में के नगर आयुक्त श्री इन्द्रजीत सिंह, अपर नगर आयुक्त, लखनऊ काइट क्लबस के सदस्य तथा गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

DdbfCubDgGi7BKGsMdi2aPk2rf_hNT4Y81ALlqPAsd6iYXCKOZAfj_qFGLoe2k1P.jpg